वन भैंसा, पहाड़ी मैना का संरक्षण करना चाहता है इंग्लैंड का ये क्रिकेटर, सीएम रमन सिंह से की मुलाकात – Kevin Pietersen Meets Chhattisgarh Chief Minister Raman Singh and Talk About Conserve Wild Animals

इंग्लैंड के मशहूर क्रिकेटर केविन पीटरसन ने कहा है कि उनकी संस्था वन भैंसा तथा पहाड़ी मैना के संरक्षण और संवर्धन में सहयोग करना चाहती है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री रमन सिंह से सोमवार को रायपुर में उनके निवास पर पीटरसन ने मुलाकात की। पीटरसन ने मुख्यमंत्री को बताया कि दुर्लभ और विलुप्तप्राय वन्य प्राणियों के संरक्षण और संवर्धन के लिए ‘सरोई’ नामक संस्था का गठन किया गया है। पीटरसन ने बताया कि उन्हें छत्तीसगढ़ के दुर्लभ वन भैंसा तथा पहाड़ी मैना के बारे में जानकारी प्राप्त हुई है। उनकी संस्था वन भैंसा तथा पहाड़ी मैना के संरक्षण और संवर्धन में सहयोग करना चाहती है।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री सिंह ने पीटरसन और उनकी संस्था द्वारा दुर्लभ वन्य प्राणियों के संरक्षण और संवर्धन के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि वन्य प्राणियों की सुरक्षा, संरक्षण और संवर्धन का कार्य निश्चित रूप से प्रशंसनीय है। इसमें सभी को सहयोग करना चाहिए। सिंह ने पीटरसन को छत्तीसगढ़ के दुर्लभ वन भैंसा और पहाड़ी मैना के बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री ने बताया कि छत्तीसगढ़ का वन भैंसा अत्यंत दुर्लभ प्रजाति का है। इसे राज्य का राजकीय पशु घोषित किया गया है। छत्तीसगढ़ में इनकी संख्या बहुत सीमित है। इसी तरह पहाड़ी मैना भी दुर्लभ पक्षी है। इसे छत्तीसगढ़ का राजकीय पक्षी घोषित किया गया है।

संबंधित खबरें

उन्होंने यह भी बताया कि यह एक ऐसा पक्षी है, जो हूबहू मनुष्य की बोली की नकल कर सकता है। मुख्यमंत्री ने पीटरसन को राज्य सरकार द्वारा वन भैंसा और पहाड़ी मैना के संरक्षण और संवर्धन के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी।सिंह ने पीटरसन को नया रायपुर में निर्मित जंगल सफारी के बारे में भी जानकारी दी और उन्हें जंगल सफारी के भ्रमण का निमंत्रण दिया। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री के आग्रह पर पीटरसन ने दोपहर में जंगल सफारी का भ्रमण किया और वहां वन्य प्राणियों के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की प्रशंसा की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *