Australia Test captain Tim Paine pledged to embark on a new era in Australian Cricket – नए कप्तान ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में नया युग लाने का किया वादा, बोले- फिर से विश्वास जीतेंगे

बॉल टैम्परिंग विवाद के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम इससे उबरने में जुटी है। टेस्ट टीम के नए कप्तान टिम पेन ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में नया युग लाने के साथ ही लोगों के बीच खेल को लेकर फिर से विश्वास बहाल करने के लिए काम करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि बॉल के साथ छेड़छाड़ का परिणाम खिलाड़ियों से कहीं ज्यादा है। टिम पेन ने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में नई शैली भी विकसित करने की बात कही है। होबार्ट में उन्होंने कहा, ‘अब हम एक क्लीन स्लेट की तरह हैं और आगे बढ़ रहे हैं। हमारे लिए मुख्य बात प्रशंसकों को एक बार फिर से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की ओर खींचना है। हमलोग यह सुनिश्चित करेंगे कि फैंस हमारे तौर-तरीकों को पसंद करें और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम पर गर्व करें।’ ऑस्ट्रेलियाई टीम के दक्षिण अफ्रीकी दौरे के दौरान बॉल टैम्परिंग का विवाद सामने आया था। तत्कालीन कप्तान स्टीव स्मिथ ने सार्वजनिक तौर पर इसे स्वीकार भी किया था। इसमें डेविड वार्नर और कैमरन बैंक्राफ्ट का नाम भी सामने आया था। इस विवाद के बाद ऑस्ट्रेलिया के साथ ही विश्व क्रिकेट में भूचाल सा आ गया था।

बड़ी खबरें

नए हेड कोच पर फैसला जल्द: बॉल टैम्परिंग का मामला सामने आने के बाद उनके क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। कोच डेरेन लेहमैन ने भी पद छोड़ने की घोषणा कर दी थी। लेहमैन पर किसी तरह के आरोप नहीं लगे थे, इसके बावजूद उन्होंने कोच का पद छोड़ने का फैसला किया था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया 20 अप्रैल को नए हेड कोच की नियुक्ति पर विचार-विमर्श करेगा। बता दें ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज जस्टिन लेंगर को हेड कोच बनाने की बात सामने आई थी। बाद में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड ने इस खबर का खंडन किया था। बोर्ड ने कहा था कि कोच के पद पर अभी तक किसी की नियुक्ति नहीं की गई है। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के साथ तीसरे टेस्ट मैच में बॉल टैंम्परिंग का मामला सामने आया था। इसके तुरंत बाद कप्तान स्टीव स्मिथ को हटा दिया गया था। प्रतिबंध लगने के कारण स्मिथ और वार्नर आईपीएल का भी हिस्सा नहीं बन सके। स्मिथ को राजस्थान रॉयल्स का कप्तान बनाया गया था। बाद में यह जिम्मेदारी अजिंक्या रहाणे को दी गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *