Ben Stokes, Jaydev Unadkat, glen maxwell and other expensive flops players of this season ipl- IPL 2018 : इन खिलाड़ियों पर पैसा लगाकर फ्रेंचाइजियों से हुई बड़ी गलती, जारी है फ्लॉप शो

आईपीएल सीजन 11 में टीमें अब प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए जद्दोजहद कर रही है। टूर्नामेंट में कुछ टीमें जहां अच्छी स्थिति में हैं तो वहीं कुछ टीमों पर एक हार के साथ ही प्लेऑफ की दौर से बाहर निकलने का खतरा भी है। इस साल फ्रेंचाइजियों ने कुछ खिलाड़ियों पर जमकर पैसा खर्च किया, लेकिन अभी तक वो खिलाड़ी अपना प्रभाव छोड़ने में नाकाम ही रहे हैं। सबसे पहले बात करते हैं राजस्थान के लिए खेलने वाले खिलाड़ी बेन स्टोक्स की। नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने इंग्लैंड के खिलाड़ी बेन स्टोक्स को 12 करोड़ पचास लाख रुपए में खरीदकर अपनी टीम में शामिल किया। बेन स्टोक्स का प्रदर्शन अभी तक इस टूर्नामेंट में निराशाजनक ही रही है। अभी तक खेले गए आठ मुकाबलों में स्टोक्स सिर्फ 148 रन ही बना पाए हैं, वहीं गेंदबाजी में एक विकेट हासिल करने में कामयाब रहे हैं। राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाज जयदेव उनादकट को भी टीम ने 11 करोड़ पचास लाख में खरीदा है, लेकिन वो भी अभी तक असफल ही साबित रहे हैं।

संबंधित खबरें

Glenn Maxwell ग्लेन मैक्सवेल।

भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज मनीष पांडे को इस साल सनराइजर्स हैदराबाद ने 11 करोड़ में खरीदा। मनीष पांडे पिछले साल तक केकेआर के लिए शानदार प्रदर्शन करते रहे थे, लेकिन इस साल उनका बल्ला खामोश ही रहा है। अभी तक खेले गए आठ मैचों में मनीष पांडे ने 112 के स्ट्राइक रेट के साथ 158 रन बनाए हैं। इतना ही नहीं इन आठ मुकाबलों में पांडे के बल्ले से 11 चौके और सिर्फ दो छक्के निकले हैं।

दिल्ली डेयरडेविल्स ने इस साल 9 करोड़ में ऑस्ट्रेलियाई विस्फोटक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल को शामिल किया। अभी तक खेल 8 मैचों में मैक्सवेल के बल्ले से सिर्फ 131 रन ही निकले हैं। वहीं चेन्नई सुपर किंग्स के ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा भी टीम के लिए अभी तक घाटे का सौदा ही रहे हैं। जडेजा बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में ही बुरी तरह से फ्लॉप साबित रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *