cricket fans are trolling Manish Pandey for his poor performance in this year ipl – टीम से बाहर करने की बात कह ट्रोल कर रहे थे फैंस, मनीष पांडे ने दिया करारा जवाब

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम इस सीजन प्लेऑफ में क्वॉलिफाई करने वाली पहली टीम है। इस साल टीम का प्रदर्शन जबरदस्त रहा है। टीम के कप्तान डेविड वॉर्नर पर एक साल के बैन लगने के बाद ऐसा माना जा रहा था कि टीम इस साल टूर्नामेंट में कमजोर पड़ सकती है। केन विलियमसन की कप्तानी में हैदराबाद की टीम ने इस साल शानदार प्रदर्शन किया है। टीम 12 मैचों में 9 जीत हासिल कर प्वॉइंट्स टेबल में 18 अंकों के साथ नंबर वन पर बनी हुई है। टीम हर डिपार्टमेंट में दूसरी टीमों पर भारी नजर आ रही है। हैदराबाद की टीम की सबसे बड़ी कमजोरी उनके मिडल ऑर्डर के बल्लेबाज माने जा रहे हैं। प्लेऑफ में पहुंचने के बाद टीम के लिए हर मैच में जीत हासिल करना जरूरी हो जाएगा। ऐसे में अगर टीम के सलामी बल्लेबाज जल्दी आउट होते हैं तो टीम की परेशानियां बढ़ सकती है। हैदराबाद की टीम ने इस साल भारतीय बल्लेबाज मनीष पांडे पर 11 करोड़ रुपए खर्च किए थे। हालांकि, मनीष पांडे का प्रदर्शन अभी तक बेहद निराशाजनक रहा है।

संबंधित खबरें

मनीष पांडे। (फोटो सोर्स- ap)

पांडे लगातार फ्लॉप हो रहे हैं और इस वजह से मिडल ऑर्डर में टीम की बल्लेबाजी काफी कमजोर नजर आ रही है। अभी तक खेले गए 10 मुकाबलों में मनीष पांडे ने सिर्फ 189 रन बनाए हैं। इस दौरान वह दो बार अर्धशतक बनाने में भी कामयाब रहे। मनीष पांडे का प्रदर्शन देखकर हैदराबाद के फैन्स बेहद नाराज नजर आ रहे हैं। मनीष पांडे को लगातार सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा है। पांडे ने सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल करने वालों को लेकर बड़ी बात कही है।

मनीष पांडे ने कहा, ”आलोचकों से हार मानकर मैं खेलना नहीं छोड़ सकता है। खराब फॉर्म की वजह से रन नहीं बना पा रहा हू, लेकिन उम्मीद है कि जल्द वापसी करूंगा”। श्रीलंका में खेले गए निदास ट्रॉफी में मनीष पांडे ने भारतीय टीम के लिए कई अहम पारियां खेली थी, लेकिन आईपीएल में अब तक उनका बल्ला खामोश ही रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *