cricketer gautam gambhir on test tournament – बीसीसीआई पर बरसे क्रिकेटर गौतम गंभीर, शेयर किया पुराना किस्सा

quit

क्रिकेटर गौतम गंभीर किसी मुद्दे पर अपनी बेबाक टिप्पणी के लिए जाने जाते हैं। इस बार गौतम गंभीर ने देश में टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा नहीं देने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की आलोचना की है। गौतम गंभीर क्रिकेट इतिहासकार बोरिया मजूमदार की किताब ‘इलेवन गॉड्स एंड बिलियन इंडियंस’ के लॉन्चिंग कार्यक्रम में शिरकत कर रहे थे। इस कार्यक्रम में बीसीसीआई प्रशासकों की समिति के प्रमुख विनोद राय और सीईओ राहुल जौहरी भी मौजूद थे। इनकी मौजूदगी में गौतम गंभीर ने कहा कि बीसीसीआई ने बेहद लोकप्रिय आईपीएल दी लेकिन देश में टेस्ट क्रिकेट के प्रचार और प्रसार के लिए बोर्ड ने कुछ नहीं किया।

इस दौरान गंभीर ने एक वाकया को याद करते हुए बतलाया कि- मुझे याद है 2011 में ईडेन गार्डेन के मैदान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मुकाबला चल रहा था। पहले दिन वहां सिर्फ 1000 लोग मौजूद थे। जरा सोचिए जहां वीरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण जैसे खिलाड़ी खेल रहे हैं वहां सिर्फ 1000 लोग हैं, वो भी तब जब पहले दिन भारत बल्लेबाजी कर रहा है। गौतम गंभीर ने कहा कि सफेद गेंद से खेलना औऱ टेस्ट क्रिकेट में लाल ड्यूक गेंद से खेलना दोनों बिल्कुल अलग है। यह बता दें कि आगामी 27 जून से टीम इंडिया इंग्लैंड दौरे पर जा रही है। यह पांच टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले तीन टी-20 और तीन वनडे मैच होंगे।

बड़ी खबरें

इस पर गौतम गंभीर ने कहा कि तीन टी-20 और तीन वनडे से आप यह तय नहीं कर सकते कि आप टेस्ट मैच के लिए कितना तैयार हैं? टेस्ट मैचों की अनदेखी पर गौतम गंभीर ने आगे कहा है कि मैं नहीं जानता, लेकिन कहीं कुछ गड़बड़ी हुई है। हो सकता है कि उन्हें टी-20 और वनडे में कटौती करनी पड़े। 36 साल के इस बाएं हाथ के बल्लेबाज ने अपने करियर में 58 टेस्ट मैच, 147 वनडे और करीब 37 टी-30 मैच खेले हैं।

आईपीएल के इस सीजन में गौतम गंभीर दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम का हिस्सा हैं। इस आईपीएल में गौतम गंभीर ने टूर्नामेंट के बीच में दिल्ली की कप्तानी छोड़ दी थी। उन्होंने यह भी ऐलान किया था कि वो दिल्ली डेयरडेविल्स फ्रेंचाइजी से एक भी पैसा नहीं लेंगे और मुफ्त में ही फ्रेंचाइजी के लिए खेलेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *