ECB proposes 100-balls-a-side eight-team domestic competitions for men and women starting from 2020 – टी20 के बाद अब 200 गेंदों का मैच? नए फॉर्मेट पर भड़के फैंस- टॉस से ही तय कर लो कौन जीता

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने अब 200 गेंदों के शॉर्ट फॉर्मेट के क्रिकेट मैच का प्रस्ताव रखा है, जिस पर क्रिकेट फैन्स सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। ईसीबी के प्रस्ताव के अनुसार 2020 से 8 टीमों वाले एक तरफ से 100 गेंद फेंके जाने वाले घरेलू मैच शुरू किए जाएंगे। अगर क्रिकेट का यह फॉर्मेट अमल में लाया जाता है तो यह 20 ओवरों वाले टी20 फॉर्मेट से भी छोटा होगा। इसे लेकर नाराज फैन्स की तरफ से यहां तक कहा जा रहा है कि टॉस से ही तय कर लो कि कौन जीता। ईएसपीएन क्रिक इन्फो ने गुरुवार (19 अप्रैल) को ट्वीट कर ईसीबी के इस प्रस्ताव की जानकारी दी। इसके बाद लोगों ने तस्वीरें, वीडियो आदि के माध्यम से कमेंट्स की झड़ी लगा दी। एक यूजर ने लिखा कि इसे एक तरफ से 10 गेंदों वाला मैच बना दो। नवीद अंसारी नाम के यूजर ने चिंता प्रकट करते हुए लिखा- ”छोटे प्रारूप के साथ अब ज्यादा प्रयोग न किया जाए, इससे खेल को किसी तरह को फायदा नहीं होने जा रहा है।”

संबंधित खबरें

अभिजीत खामारु ने लिखा- ”क्या ईसीबी की बात सही है? क्या टी20 काफी नहीं है?” एक यूजर ने इस पर सुझाव दिया- ”इसे 10 विकेट के बजाय 5 विकेट वाला खेल क्यों न बना दिया जाए? हो सकता है कि ऐसा होने पर बल्लेबाज के अपने विकेट की ज्यादा कीमत समझेंगे। गेंदबाजों और ज्यादा प्रेरणा मिलेगी। मुझे गेंदबाजों को बैटिंग करते हुए देखने की जरूरत नहीं होगी।”

अब्दुल मुइज ने लिखा- ”2050 तक यह एक तरफ से एक गेंद वाला टूर्नामेंट होने जा रहा है।” इस पर पंडित नाम के यूजर ने लिखा- ”यह एक टॉस का भी हो सकता है।” बता दें कि टी20 क्रिकेट और इंडियन प्रीमियर लीग टूर्नामेंट को लेकर कुछ जानकारों की राय आती रहती है कि इन प्रारूपों से क्रिकेट को नुकसान पहुंचा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *