Harbhajan Singh lambasted on a person who advice him on Pagdi – पगड़ी पर मिली नसीहत तो भड़के हरभजन सिंह- घर पर ज्ञान बांट, सरदारी मत सिखा

पगड़ी पर नसीहत मिलने से क्रिकेट जगत में टर्बनेटर के नाम से मशहूर फिरकी गेंदबाज हरभजन सिंह भड़क गए। एक शख्‍स ने ट्वीट किया, ‘भज्‍जी आपने अपना टाइटल (टि्वटर पर) हरभजन टर्बनेटर रखा है। यदि आप पगड़ी नहीं पहन सकते हैं तो कृपा कर छोटे से जुड़े के साथ पटका पहना करें, ताकि आप सरदार लग सकें। आपका मौजूदा लुक तो कतई अच्‍छा नहीं है।’ हरभजन सिंह ने इस पर जबरदस्‍त पलटवार किया। उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘भाई अपने घर में ज्ञान बांट मुझे सरदारी मत सिखा। ईश्‍वर तुम्‍हारा भला करें।’ भज्‍जी का ट्वीट सामने आने के बाद लोगों ने भी प्रतिक्रियाएं देनी शुरू कर दीं। ऐसे ही एक शख्‍स ने लिखा, ‘आपको पागल लोगों का जवाब देने की जरूरत नहीं है।’ हरनूर डंडोना ने ट्वीट किया, ‘भज्‍जी मैं मूल रूप से जालंधर का रहने वाला और एक सिख हूं। आप पर मुझे गर्व है। जैसा ही वैसा ही रहना वीरे।’ सोहन सिंह राठौड़ ने लिखा, ‘पगड़ी या टोपी पहनने से कोई फर्क नहीं पड़ता है। सरदार को तो दिल से सच्‍चा होना चाहिए। भज्‍जी तो लाखों में एक हैं।’ प्रिया ने ट्वीट किया, ‘क्‍यों ऐसे बेवकूफों के लिए रिएक्‍ट करते हो?’

संबंधित खबरें

हरभजन सिंह IPL 2018 में चेन्‍नई सुपर किंग्‍स (सीएसके) की ओर से खेल रहे हैं। इससे पहले वह मुंबई इंडियंस का हिस्‍सा थे। गुरुवार (3 मई) को कोलकाता के ईडन गार्डंस में सीएसके और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच अहम मैच खेलागया था। केकेआर के कप्‍तान दिनेश कार्तिक ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया था। महेंद्र सिंह धोनी की अगुाआई वाली सीएसके ने पहले बाल्‍लेबाजी करते हुए 5 वि‍केट के नुकसान पर 177 रन का स्‍कोर खड़ा किया था। धोनी ने सबसे ज्‍यादा 25 गेंदों में 43 रनों की पारी खेली थी। उनके अलावा शेन वॉटसन, डुप्‍लेसिस और सुरेश रैना ने भी उपयोगी पारियां खेलीं। लेकिन, यह स्‍कोर नाकाफी साबित हुआ था। केकेआर ने 18वें ओवर में ही विजयी लक्ष्‍य को हासिल कर लिया था। शुबमन गिल ने नाबाद 57 और कप्‍तान दिनेश कार्तिक ने महज 18 बॉल में 45 रनों की धुंआधार पारी खेली खेली थी। सुनील नारायण ने भी 32 रनों की पारी खेली थी। बेहतरीन गेंदबाजी और बल्‍लेबाजी करने वाले नारायण को मैन ऑफ द मैच का खिताब दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *