IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका के कप्‍तान ने बताया, दूसरे वनडे में क्‍यों ढेर हो गए उनके बल्‍लेबाज – Indian vs South Africa 2018 2nd ODI match ind vs sa match: South africa captain Aiden Markram reveal why his team batsmen failed

दक्षिण अफ्रीका के कार्यवाहक कप्तान एडेन मार्कराम ने भारत के खिलाफ दूसरे एक दिवसीय मैच में नौ विकेट से मिली करारी शिकस्त को सीख देना वाला बताया है। कलाई के स्पिनर युजवेन्द्र चहल और कुलदीप यादव की फिरकी के सामने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिये और 32.3 ओवर में टीम 118 रन पर सिमट गयी, जो कि घरेलू मैदान में उनका न्यूनतम स्कोर है। इस जीत से भारतीय टीम श्रृंखला में 2-0 से आगे हो गयी। मार्कराम ने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर यह हमारे लिए आंखे खोलने वाला था, लेकिन शायद इससे टीम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करे और हम आने नाले मैचों में भारत को कुछ चुनौती दे सकें। मुझे यह देखना होगा की ऐसी स्थिति से खिलाड़ी कैसे निपटते हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जाहिर है खिलाड़ी बहुत परेशान और निराश हैं लेकिन अच्छी बात यह है कि वे खुद से निराश हैं। यह हमारी खेल संस्कृति को दर्शाता है और यह काफी मजबूत है।’’ कप्तानी के पहले मैच में बुरी तरह पराजय झेलने वाले मार्कराम ने कहा, ‘‘हर खिलाड़ी आगे बढ़ने को तैयार हैं। यह एक त्वरित बदलाव है लेकिन यह बाकी बचे चार मैचों में खिलाड़ियों में जोश भर सकता है जो हमारे लिए अच्छी बात है।” उन्होंने भारतीय स्पिनरों की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘चहल और कुलदीप अपने तरीके के शानदार गेंदबाज हैं। मुझे  लगता है कि हमने उनका सामना ठीक से नहीं किया और हमारी गिरावट यहीं से शुरू हुई।’’

मार्कराम ने कहा, ‘‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आपको कमजोर आक्रमण का सामना करने को नहीं मिलेगा और ना ही कमजोर बल्लेबाजी क्रम का। इस मैच में हमारा दिन खराब था। हमें स्पिन के खिलाफ अपनी बल्लेबाजी पर काम करना होगा लेकिन हमारे लिए यह बहुत बड़ा खतरा नहीं है।’’ मार्कराम ने कहा कि बल्लेबाजी में हमें तभी सफलता मिलेगी जब हम अपनी योजनाओं पर ठीक से काम करें। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि हमारी खेल योजना की ज्यादा कमी है। अगर आप हमारे शीर्ष छह बल्लेबाजों से बात करेंगे तो हर किसी के पास एक स्पष्ट योजना है। जाहिर है उस योजना को धरातल पर उतारना होगा।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *