India vs South Africa 2018 2nd ODI Match Squad, Ind vs SA ODI Match: Kohli can’t believe it, as the umpires call for lunch – Ind vs SA 2nd ODI: जीत के लिए भारत को थी महज 2 रन की दरकार, पवेलियन वापस लौटे भारतीय बल्लेबाज

quit

Ind vs SA: 6 मैचों की सीरीज के दूसरे वनडे मुकाबले में युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने फिर से दक्षिण अफ्रीका पर कहर ढाया, जिससे भारत ने दूसरे एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मैच में 4 फरवरी को मेजबान टीम को 32.2 ओवर में 118 रन पर ढेर कर दिया। चहल ने 22 रन देकर पांच विकेट लिए, जो दक्षिण अफ्रीका में किसी लेग स्पिनर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है। कुलदीप ने 20 रन देकर तीन विकेट चटकाए, जिससे दक्षिण अफ्रीकी टीम अपनी सरजमीं पर अब तक के अपने सबसे न्यूनतम स्कोर पर आउट हो गयी। जसप्रीत बुमराह (12/1) और भुवनेश्वर कुमार (19/1) ने भी एक-एक विकेट लिया।

टारगेट का पीछा करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत भी कुछ खास नहीं रही। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा महज 15 रन बनाकर आउट हो गए लेकिन तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे कप्तान विराट कोहली ने शिखर धवन के साथ बेहतरीन साझेदारी करते हुए टीम को जीत की दहलीज तक ला दिया। टीम इंडिया 19 ओवर में 117 रन बना चुकी थी और उसे जीत के लिए 2 रन की दरकार थी। इसी बीच लंच ब्रेक की घोषणा हो गई, जिससे फैंस समेत खुद विराट कोहली तक हैरान रह गए।

संबंधित खबरें

अनुभवी एबी डिविलियर्स और कप्तान फाफ डुप्लेसिस के चोटिल होने से पंगु बनी दक्षिण अफ्रीकी टीम के पांच बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे लेकिन कोई भी 25 से अधिक रन नहीं बना पाया। दक्षिण अफ्रीका ने अपने आखिरी छह विकेट 19 रन के अंदर गंवाए। इससे पहले अपनी धरती पर उसका न्यूनतम स्कोर 119 रन था जो उसने इंग्लैंड के खिलाफ 2009 में पोर्ट एलिजाबेथ में बनाया था।

पहली बार वनडे में कप्तानी कर रहे एडेन मार्कराम के लिए शुरू से कुछ भी अच्छा नहीं रहा। पहले वह टास हार गए और विराट कोहली ने उनकी टीम को बल्लेबाजी को लिए आमंत्रित किया। पिच काफी शुष्क थी और उसमें भारत के कलाईयों के दोनों स्पिनरों ने पर्याप्त टर्न हासिल किया। हाशिम अमला (23) और क्विटंन डिकाक (20) ने पहले विकेट के लिए 39 रन जोड़े लेकिन दसवें ओवर में यह साझेदारी टूटने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने लगातार विकेट गंवाये। अमला को भुवनेश्वर ने विकेट के पीछे कैच कराया।

स्पिनरों के आक्रमण पर आते ही दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजी की कमजोरी फिर से खुलकर सामने आ गई। उसने 51 रन पर तीन विकेट गंवाए। डिकाक को चहल ने डीप मिडविकेट पर कैच कराया, जबकि कुलदीप ने मार्कराम (आठ) को इसी तरह से कैच देने के लिए मजबूर किया। इसके चार गेंद बाद कुलदीप की तेजी से स्पिन लेती गेंद पर डेविड मिलर (शून्य) भी पवेलियन लौट गए।

जेपी डुमिनी (25) और अपना पहला वनडे मैच खेल रहे खायलिले जोंडो (25) ने 48 रन जोड़कर दक्षिण अफ्रीका की उम्मीद जगाई। जोंडो ने चहल पर स्लॉग स्वीप करने के प्रयास में मिडविकेट पर कैच दिया। चहल और कुलदीप के सामने दक्षिण अफ्रीका के पुछल्ले बल्लेबाज भी बगलें झांकते हुए नजर आए। क्रिस मॉरिस ने आखिरी बल्लेबाज के रूप में आउट होने से पहले 14 रन बनाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *