IPL 2018 Time Table, Schedule, Team List Players IPL matches to be shifted from chennai due to Cauvery Protests – IPL 2018: CSK फैंस के लिए बुरी खबर, चेन्‍नई में नहीं होंगे आईपीएल के मैच

चेन्नई में रहने वाले क्रिकेट फैन्स के लिए बेहद बुरी खबर है। कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड के गठन को लेकर हो रहे प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन 11 के जो मैच चेन्नई में होने वाले थे उनका स्थान बदलने का फैसला किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक अब चेन्नई में होने वाले सारे मैच केरल में होंगे। प्रदर्शनकारियों द्वारा लगातार ही इस बात की मांग की जा रही थी। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि अभी राज्य में माहौल सही नहीं चल रहा है, इसलिए आईपीएल के मैच यहां आयोजित नहीं किए जाने चाहिए।

इसके अलावा प्रदर्शनकारियों की ओर से कहा गया था कि अगर चेन्नई में आईपीएल का आयोजन किया जाएगा तो ऐसे में युवाओं का ध्यान कावेरी मुद्दे से भटक जाएगा और क्रिकेट में चला जाएगा। हालांकि, लगातार हो रहे विरोध प्रदर्शन के बावजूद मंगलवाल यानी 10 अप्रैल को चेपक स्टेडियम में चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच मैच हुआ था। लोगों ने कल के मैच का विरोध करते हुए स्टेडियम के अंदर जूते-चप्पल फेंके थे। मैच के बार लोग कावेरी विवाद को लेकर नारेबाजी भी कर रहे थे।

संबंधित खबरें

प्रदर्शन के दौरान सीएसके के मशहूर खिलाड़ी और दक्षिण अफ्रीका की क्रिकेट टीम के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के ऊपर जूता भी फेंका गया था। गनीमत थी कि वह जूता उन्हें लगा नहीं। पुलिस ने फौरन इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था, जबकि उसी समूह के तीन लोग उस दौरान ‘हमे कावेरी चाहिए’ के नारे लगा रहे थे। साथ ही प्रदर्शनकारियों ने मैच के दौरान स्टेडियम में सांप छोड़ने की भी धमकी दी थी। मंगलवार को प्रो तमिल लीडर वेलमुरुगन ने कहा था कि अगर चेन्नई में आईपीएल के मैच का आयोजन होगा तो स्टेडियम में सांप छोड़ दिए जाएंगे। कल मैच के दौरान हजारों की संख्या में लोग स्टेडियम के बाहर जुटे थे। वहीं लोगों के हंगामे और विरोध को देखते हुए सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम किए गए थे। तकरीबन चार हजार पुलिसकर्मी इस दौरान मैदान के इर्द-गिर्द लगाए गए थे। बता दें कि लोगों द्वारा प्रदर्शन करने का असल कारण कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड का गठन करने में नाकाम रही केंद्र सरकार के खिलाफ गुस्सा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *