IPL 2018: When and where to watch opening ceremony, Mumbai Indians vs Chennai Super Kings

दस साल तक क्रिकेट लीग की दुनिया में धूम मचाने वाला फटाफट क्रिकेट इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) के 11वें संस्करण का शनिवार को मुंबई और चेन्नई के बीच होने वाले पहले मुकाबले के साथ आगाज हो जाएगा। 27 मई तक चलने वाले इस लीग में आठ फ्रेंचाइजी टीमें एक बार फिर मैदान में होंगी। हालांकि आइपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में दो साल के लिए निलंबित चेन्नई सुपर किंग्स और राजस्थान रॉयल्स ने वापसी कर ली है जिससे मुकाबला और रोमांचक होने की उम्मीद है। कई नए चेहरों और पुराने अनुभव के साथ लीग में उतर रही चेन्नई की टीम काफी बदल चुकी है तो वहीं राजस्थान ने भी युवाओं पर दांव लगाया है। इस सत्र में अंडर-19 विश्व कप विजेता भारतीय टीम के कई ऐसे सितारे भी मैदान में उतर रहे हैं जो भारत के अगले विराट कोहली और शिखर धवन बन सकते हैं।

दरअसल, आइपीएल के इस सत्र में काफी कुछ बदल गया है। जहां फ्रेंचाइजियों ने नई बोली प्रक्रिया से गुजर कर जीत के लिए युवा खिलाड़ियों के साथ अनुभवी क्रिकेटरों का चयन किया है तो वहीं दर्शकों की सहूलियत के लिए प्रसारण समय में भी बदलाव किया गया है। इस साल प्रतियोगिता में आइपीएल विजेता राजस्थान रॉयल्स और दो बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स, गुजरात लायंस और पुणे सुपरजाइंट की जगह खेलेंगी।

बड़ी खबरें

पिछले साल की चैंपियन मुंबई इंडियंस के अलावा अन्य टीमें जो इस सत्र का खिताब जीतने की उम्मीद लगाए बैठी हैं उनके लिए चेन्नई का लौटना एक चुनौती है। लीग में सबसे सफल फ्रेंचाइजी में से एक चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी आठ साल की भागीदारी के दौरान दो बार विजेता बनने के साथ-साथ क्वालीफायर और फाइनल में जगह बनाकर इस टूर्नामेंट में अपना वर्चस्व साबित किया है। रोहित शर्मा की अगुआई में मुंबई के लिए फिर से ट्रॉफी हासिल करना काफी मुश्किल लग रहा है।

दूसरी तरफ दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स ने भी दिनेश कार्तिक पर टीम की जिम्मेदारी सौंपी है। उसके सबसे सफल कप्तानों में शुमार गौतम गंभीर की घर वापसी हुई है और उन्होंने दिल्ली की कमान संभाली है। गेंद से छेड़छाड़ मामले में एक साल का प्रतिबंध झेल रहे आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ के आइपीएल से भी हटाए जाने के बाद राजस्थान रॉयल्स को खिताब तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भारत के स्टार बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे के कंधों पर है। रॉयल चैलेंजर्स के कप्तान विराट कोहली पर भी टीम को फाइनल तक पहुंचाने और खिताब दिलाने की जिम्मेदारी है। पिछले सत्र में आरसीबी ने बेहद खराब प्रदर्शन किया था।

इस सत्र में सबसे रोमांचक भारतीय अंडर-19 टीम के खिलाड़ियों को देखना होगा। अपनी प्रतिभा से दुनिया में डंका बजाने वाले इन खिलाड़ियों का भविष्य यहीं से तय होने की उम्मीद है। वहीं 12.5 करोड़ और 11.5 करोड़ की बोली के साथ राजस्थान की टीम में शामिल बेन स्टोक्स और जयदेव उनादकट पर भी निगाहें होंगी। लोकेश राहुल को पंजाब ने 11 करोड़ की बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल किया है। उन पर भी काफी दरोमदार है। आर अश्विन पहली बार इस सत्र में कप्तान की भूमिका में नजर आएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *