IPL Auction 2018: IPL Auction cruel and undignified, players paraded like cattle – क्रिकेट संघ ने कहा – IPL में जानवरों की तरह होती है खिलाड़ियों की नीलामी

आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) सीजन-11 के लिए की गई नीलामी की न्यूजीलैंड क्रिकेट प्लेयर्स एसोसिएशन (एनजेडसीपीए) ने कड़ी आलोचना की है। एनजेडसीपीए चीफ हेथ मिल्स ने ऑक्शन को अपमानजक, क्रूर और खिलाड़ियों की कमाई से खिलवाड़ करने वाला बताते हुए कहा, ‘मुझे लगता है कि पूरी प्रणाली पुरानी है और उन खिलाड़ियों के लिए काफी अपमानजनक है, जिन्हें दुनिया के सामने जानवरों की तरह परेड करते दिखाया गया। कई खिलाड़ी इसलिए निराश हैं क्योंकि वह अब भी आईपीएल प्रणाली को समझ नहीं पाते हैं। उन्हें नहीं पता कि आखिर यह कैसे काम करता है।’ इस सीजन न्यूजीलैंड के 7 खिलाड़ियों को ऑक्शन में खरीदा गया है।

बता दें कि भारत के युवा तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट इस वर्ष इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की नीलामी में सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी बने हैं। उन्हें नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने 11.5 करोड़ रुपये में खरीदा। उनादकट को खरीदने के लिए राजस्थान रॉयल्स कोलकाता नाइट राइडर्स, किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स से कड़ी टक्कर मिली।

indian captian virat kohli

उनादकट पिछले सीजन में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट की तरफ से खेले थे और सीजन के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज रहे थे। मनीष पांडे और लोकेश राहुल शनिवार को हुई नीलामी में सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी थे। दोनों को 11-11 करोड़ रुपये में खरीदा गया था। पांडे को सनराइजर्स हैदराबाद, जबकि राहुल को पंजाब ने खरीदा। वहीं क्रिस गेल को दूसरे दिन दूसरे चरण की नीलामी में भी किसी फ्रेंचाइजी ने नहीं खरीदा था लेकिन की विशेष मांग पर उनकी तीसरी बार नीलामी हुई और दो करोड़ की आधार कीमत पर अपने साथ जोड़ लिया।

इंग्लैंड के बेन स्टोक्स पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी नीलामी में सबसे महंगे खिलाड़ी बने। उन्हें पहले दिन की नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने 12.5 करोड़ रुपये में खरीदा। दिल्ली ने अपने तेज गेंदबाजी आक्रमण को मजबूत करते हुए न्यूजीलैंड के ट्रेंट बाउल्ट को अपने साथ जोड़ा और उनके लिए 2.2 करोड़ रुपये की कीमत अदा की।

जहां कई छोटे-छोटे खिलाड़ियों ने नीलामी में सुर्खियां बटोरीं तो वहीं कई स्टार खिलाड़ियों के लिए फ्रेंचाइजियों ने बोली नहीं लगाई। इनमें दक्षिण अफ्रीका के मोर्ने मोर्कल और डेल स्टेन के नाम भी शामिल है। वहीं आस्ट्रेलिया के शॉन मार्श, किवी टीम के कोरी एंडरसन, एश्टन अगल और ल्यूक रौंची को कोई भी खरीददार नहीं मिला। न्यूजीलैंड के एडम मिल्ने और इंग्लैंड के टायमल मिल्स को भी खरीददार नहीं मिला। यह दोनों पिछले सीजन में बेंगलोर के लिए खेले थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *