Irfan Pathan revealed that some of his teammates jealous because of his promotion in the team – इरफान पठान ने किया खुलासा- उनकी तरक्की से जलते थे कुछ क्रिकेटर

भारतीय क्रिकेट टीम में एक समय खुद को ऑलराउंडर के तौर पर स्थापित करने वाले इरफान पठान ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। उन्होंने बताया कि टीम में उनकी तरक्की से कुछ प्लेयर्स बहुत जलते थे। उन्होंने कहा, ‘जब मुझे नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने के लिए भेजा जाने लगा तो एक प्लेयर ने चिल्लाते हुए कहा था इसको क्यों…मुझे भेजो। उस खिलाड़ी ने पूछा था ‘तुम्हारा इतना ध्यान क्यों रखा जाता है?’ तू तो इतना बदसूरत है।’ इरफान पठान ने बताया कि नेट पर सचिन तेंडुलकर और वीवीएस. लक्ष्मण उनकी गेंदबाजी की बहुत तारीफ करते थे। तेज गेंदबाज ने कहा, ‘सचिन कहा करते थे कि उन्होंने मेरे जैसा स्विंग बॉलर नहीं देखा। वहीं, लक्ष्मण भाई बोलते थे कि नेट पर मुझे फेस करने का मतलब अपने घुटनों को बचाना।’ इरफान ने कैनबरा (ऑस्ट्रेलिया) की एक घटना का भी जिक्र किया। उन्होंने बताया कि उन्होंने एक बार अचानक से दरवाजा बंद कर दिया था। उन्हें पता ही नहीं था कि उनके पीछे स्टीव वॉ खड़े थे। इरफान ने कहा, ‘जब मैंने दरवाजा खोला तो स्टीव को देखा था। मैंने उनको हुई दिक्क्त के लिए माफी मांगी थी। इस पर उन्होंने कहा था, ‘आप मुझे मैदान पर बहुत मुश्किलों में डाल चुके हैं, यहां दिक्कत में डालना तो छोड़िए।’ इतना कहने के बाद स्टीव वॉ हंसने लगे थे।’

संबंधित खबरें

लीजेंड हैं कपिल देव: इरफान पठान की अक्सर कपिल देव से तुलना की जाती थी। हालांकि, इरफान इससे कतई इत्तफाक नहीं रखते हैं। उन्होंने कहा, ‘कपिल देव कपिल देव हैं। उनके जैसा कोई नहीं हो सकता है। मैं हमेशा ही कहता रहता था कि मैं एक गेंदबाज हूं जो बल्लेबाजी भी कर सकता है। दबाव को झेलने का वह मेरा अपना तरीका था। हालांकि, मैं जब भी बल्लेबाजी करने जाता था, मैं एक बल्लेबाज की तरह सोचता था।’ आजकल हार्दिक पांड्या की भी कपिल देव से तुलना की जाने लगी है। हार्दिक पर बात करते हुए इरफान ने कहा, ‘मैंने जब खुद को स्थापित कर लिया थ तब जाकर बल्लेबाजी क्रम में मुझे प्रमोट किया गया था। हार्दिक को अपेक्षा से पहले ही यह मौका मिल गया। कप्तान और कोच का साथ रहने तक हार्दिक के साथ सबकुछ ठीक रहेगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *