KKR vs CSK, IPL 2018 Time Table, Schedule, Team List Players, Full Squad: Chis Lynn was given out after MS Dhoni Review overturned the original Decision – VIDEO: DRS का मतलब ‘धोनी रिव्यू सिस्टम’ क्यों, माही ने फिर किया साबित

कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के क्रिस लिन कल (तीन मई) के मैच में आउट हुए। लेकिन मैच अंपायर ने उन्हें पहले नॉट आउट बता दिया था। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के रिव्यू के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। गेंद उनके बल्ले के अल्ट्राएज से छूकर निकली थी, जिसे स्लिप पर लपका गया था। धोनी और उनकी टीम ने इसी पर लिन को आउट देने की अपील की। अंपायर के मना किया तो धोनी ने डीआरएस (अंपायर डिसीजन रिव्यू सिस्टम) लिया, जिसके बाद मैच अंपायर ने भी लिन को आउट बताया।

आपको बता दें कि गुरुवार (तीन मई) शाम को सीएसके और केकेआर के बीच मुकाबला हुआ था। कोलकाता के ईडन गार्डन्स में खेले गए इस मैच में केकेआर ने पहले गेंदबाजी की थी। चेन्नई ने 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 177 रन बनाए थे, जबकि जवाबी पारी में केकेआर ने 17.4 ओवरों में 180 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया था।

संबंधित खबरें

धोनी के रिव्यू से जुड़ा यह रोचक वाकया उस दौरान का है, जब स्ट्राइक पर लिन थे। वह 12 रन पर खेल रहे थे। लुंगी नगीदी का ओवर चल रहा था। लुंगी के ओवर की आखिरी गेंद पर लिन बड़ा शॉट खेलने के चक्कर गेंद मिस कर गए।

गेंद उनके पैर के बिल्कुल बगल से निकलकर स्लिप पर गई, जहां उसे कैच के तौर पर शेन वॉटसन ने लपक लिया था। हालांकि, कुछ लोगों को इस दौरान लगा था कि गेंद बल्ले से लगकर निकली है। ऐसे लोगों में धोनी भी थे, जिन्होंने फौरन उनके आउट होने की अपील की। टीम के साथी खिलाड़ी भी उनके साथ इस दौरान अपील कर रहे थे, लेकिन अंपायर ने इशारा देकर पहले मना किया।

बाद में धोनी ने डीआरएस का सहारा लिया। वह इस दौरान वॉटसन से कुछ बात करते नजर आए, जिसके बाद मैच अंपायर ने अन्य अंपायरों से संपर्क किया। सलाह-मशविरा के बाद अंपायर ने अपना फैसला बदलते हुए लिन को आउट करार दिया। माना गया कि गेंद अल्ट्राएज से लगी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *