किम जोंग ने अधिकारी को ज्यादा राशन-ईंधन बंटवाने पर 90 गोलियों से छलनी करवाया

नई दिल्लीः उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन की सनक का एक और मामला सामने आया है. किम जोंग उन ने अपने एक शीर्ष सेनाधिकारी को 90 गोलियों से छलनी करवाकर मौत के घाट उतवा दिया है. इसके पीछे कारण बताया जा रहा है कि उसने सेना के जवानों में ज्यादा राशन-तेल बंटवा दिया था. इसी से नाराज होकर किम जोंग ने उस अफसर को 90 गोलियों से छलनी करवा दिया.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस अधिकारी का नाम ह्योन जू सांग था और इसे प्योंगयांग के सूनान जिले की मिलिट्री एकेडमी में मारा गया. अधिकारी को सरेआम 90 गोलियां मारी गईं. ये लेफ्टिनेंट जनरल रैंक का अधिकारी था और इसपर सेना के जवानों को तय सीमा से ज्यादा खाना और ईंधन बंटवाने के आरोप लगे थे. ह्योन ने 10 अप्रैल को एक सैटेलाइट लॉन्चिंग स्टेशन का निरीक्षण किया था और इसके बाद जवानों ने उससे कहा कि अब हम राकेट और न्यूक्लियर परीक्षण के लिए और भूखे नहीं रह सकते जिसके बाद ह्योन ने इन जवानों में तय सीमा से ज्यादा राशन और ईंधन बंटवा दिया.

किम जोंग को इस कदम में अपनी तौहीन महसूस हुई और उसने इस लेफ्टिनेंट जनरल को मौत की सजा सुना दी. उसकी हत्या की सुनवाई एक बंद कमरे में हुई जहां सेना के सुप्रीम कमांडर्स के अलावा कई अन्य अअधिकारी भी मौजूद थे.

अभी 12 जून को ही किम जोंग और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात हुई थी जिसमें दोनों ही राष्ट्राध्यक्षों ने वैश्विक शांति को लेकर कुछ कदम बढाए थे. इसके अलावा इससे पहले उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के प्रमुख ने भी आपस में मुलाकात कर दोनों देशों के बीच सालों से चली आ रही खटास को मिटाने की कोशिश की थी.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *