चीन से दोस्ती पाक की विदेशी नीति का महत्वपूर्ण अंग: इमरान खान

<p style=”text-align: justify;”><strong>इस्लामाबाद:</strong> पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने चीन से दोस्ती को देश की विदेश नीति का महत्वपूर्ण अंग बताया है. इसके साथ ही उन्होंने 50 अरब डॉलर की चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा योजना के क्रियान्वयन की प्रतिबद्धता जताई.</p>
<p style=”text-align: justify;”>पाकिस्तान और चीन ने रविवार को चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) योजना के क्रियान्वयन को लेकर प्रतिबद्धता जताई है. चीन के विदेश मंत्री वांग यी की पाकिस्तान यात्रा के दौरान दोनों देशों की ओर से इस योजना को लेकर प्रतिबद्धता जताई गई. खान से मुलाकात में द्विपक्षीय रणनीतिक संबंधों को और मजबूती देने की भी प्रतिबद्धता जताई गई.</p>
<p style=”text-align: justify;”>वांग शुक्रवार को तीन दिन की पाकिस्तान यात्रा पर आए थे. वांग ने एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री से यहां मुलाकात की. प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी बयान में कहा गया है कि विदेश मंत्री ने सीपीईसी को दोनों देशों के लोगों के लिए महत्वपूर्ण बताया है.</p>
<p style=”text-align: justify;”>वांग ने कहा कि चीन पाकिस्तान के नए नेतृत्व के साथ रणनीतिक भागीदारी का विस्तार करने को मिलकर काम करने की इच्छा रखता है. पाकिस्तान के नए राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने कहा कि चीन के साथ दोस्ती पाकिस्तान की राष्ट्रीय नीति है. पाकिस्तान हमेशा चीन से दोस्ती को महत्व देता रहा है. यह संबंध आपसी हितों पर आधारित है और दोनों देशों के लोगों के दिलों में बसा हुआ है.</p>
<p style=”text-align: justify;”><strong>देखें वीडियो</strong></p>
<p style=”text-align: justify;”>मास्टर स्ट्रोक : फुल एपिसोड । 12 राज्यों में दिखा भारत बंद का असर</p>
<code></code>

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *