रूस ने चीन के सैनिकों के साथ शुरू किया अब तक का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास

रूस: रूस ने मंगलवार को बड़ा सैन्य अभ्यास शुरू किया. इसे अब तक का सबसे बड़ा अभ्यास बताया जा रहा है जिसमें सैकड़ों जवान चीनी सैनिकों के साथ हिस्सा ले रहे हैं. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के युद्धाभ्यास में शिरकत करने की उम्मीद है. रूस के सुदूर पूर्वी शहर व्लादीवोस्तोक में एक आर्थिक मंच में भी वह हिस्सा लेंगे और इस बैठक में उनके चीनी समकक्ष शी जिनपिंग प्रमुख अतिथियों में से हैं.

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि हफ्ते भर चलने वाला युद्धाभ्यास “वोस्तोक-2018” रूस के सुदूरवर्ती इलाके में शुरू हुआ है. इस अभ्यास में करीब तीन लाख सैनिक, 36,000 सैन्य वाहन, 80 जहाज और 1000 विमान, हेलिकॉप्टर और ड्रोन हिस्सा ले रहे हैं. इस अभ्यास में करीब 3,500 चीनी सैनिक शामिल होंगे.

रक्षा मंत्रालय ने युद्धाभ्यास का वीडियो किया जारी

रक्षा मंत्रालय ने अभ्यास के आरंभ में वाहनों, विमानों, हेलिकॉप्टरों और जहाजों को अपने-अपने मोर्चे पर डटे होने का वीडियो फुटेज भी जारी किया. यह सैन्य अभ्यास ऐसे वक्त हो रहा है जब यूक्रेन और सीरिया में संघर्ष और पश्चिम के मामलों में रूस पर दखल देने का आरोप लग रहा है.

राष्ट्रपति के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने मंगलवार को मीडिया से कहा कि ये काफी महत्वपूर्ण अभ्यास है लेकिन ये सैन्य बलों की प्रगति का नियमित सालाना अभियान है.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *