लंदन में हुई नवाज शरीफ की पत्नी के जनाजे की नमाज, बड़ी संख्या में शरीक हुए लोग

लंदन/लाहौर: लंदन की एक मस्जिद में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज की जनाजे की नमाज में सैंकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया. साथ ही उनका शव दफनाने के वास्ते पाकिस्तान ले जाने के लिए कानूनी औपचारिकताएं पूरी की गयीं. लंदन की रीजेंट पार्क मस्जिद में कुलसुम की जनाजे की नमाज में उनके बेटों- हसन और हुसैन, देवर शहबाज शरीफ, पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी निसार और इशाक डार समेत कई लोग पहुंचे थे. लाहौर में शुक्रवार को अलग से एक और जनाने की नमाज होगी.

कैंसर से लंबे समय तक जूझने के बाद लंदन के एक अस्पताल में मंगलवार को कुलसुम की मृत्यु हो गयी थी. वह 68 साल की थीं. उन्हें शुक्रवार को लाहौर में शरीफ परिवार की जती उमरा निवास में दफनाया जाएगा. उनके ससुर मियां शरीफ और देवर अब्बास शरीफ की कब्रों के समीप अंतिम संस्कार किया जाएगा.

जियो टीवी की खबर है कि गुरुवार की रात को पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की एक उड़ान हीथ्रो एयरपोर्ट से कुलसुम का पार्थिव शरीर लेकर लाहौर पहुंचेगी. शहबाज शरीफ, कुलसुम नवाज की बेटी अस्मा, पोते और परिवार के अन्य सदस्य पार्थिव शरीर लेकर पाकिस्तान जायेंगे. शरीफ के बेटे हसन और हुसैन अपनी मां के अंतिम संस्कार के लिए पाकिस्तान नहीं जायेंगे. दोनों को भ्रष्टाचार के मामलों में एक जवाबदेही अदालत ने भगोड़ा घोषित कर रखा है.

जियो टीवी के मुताबिक इस बीच कानूनी औपचारिकताएं पूरी की गयीं और परिवार को हार्ली स्ट्रीट क्लीनिक से मृत्यु प्रमाणपत्र मिल गया. यहीं कुलसुम मंगलवार को चल बसीं थीं. शरीफ परिवार को मृत्यु संबंधी कामकाज देखने वाले अधिकारी से पार्थिव शरीफ को इंगलैंड से बाहर ले जाने का पत्र भी मिल गया.

शरीफ, उनकी बेटी मरियम, उनके दामाद एम सफदर को कुलसुम के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए पेरोल पर रावलपिंडी की अडियाला जेल से रिहा किया गया था. उन्हें भ्रष्टाचार के मामलों में एक जवाबदेही अदालत ने जुलाई में उम्रकैद की सजा सुनायी थी.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *