बदलाव की राह पर सऊदी अरब, पहली बार किसी महिला एंकर ने पढ़ा शाम को बुलेटिन

रियाद: सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद सलमान ने कुछ साल पहले घोषणा की थी कि अब सऊदी उदारवादी इस्लाम की तरफ आगे बढ़ेगा. धीरे-धीरे सऊदी में इस बात का असर भी दिखने लगा है. जून में सऊदी ने महिलाओं के ड्राइविंग पर लगी रोक को हटा लिया था. इसी तरह का एक उदाहरण हमें फिर से तब देखने को मिला जब सऊदी अरब में वियाम अल दखील ने टेलीविज़न पर शाम को समाचार बुलेटिन देने वाली पहली महिला बनकर इतिहास बनाया. वियाम अल दखील ने सऊदी के सरकारी चैनल सउदिया पर मुख्य खबरें पढ़ी हैं.

सऊदी टीवी ने इसे ऐतिहासिक दिन बताया 

सऊदी टीवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर कहा, “जुमाना अलशेमी 2016 में सुबह के न्यूजकास्ट पेश करने वाली पहली महिला थीं. आज के दिन इतिहास ने खुद को दोहराया है, क्योंकि वियाम अल दखील शाम को समाचार पढ़ने वाली पहली महिला एंकर बन गई हैं, जो सऊदी टीवी 1 के लिए ऐतिहासिक उदाहरण स्थापित करता है.

सऊदी 2030 तक तेल पर कम करना चाहता है अपनी निर्भरता

सऊदी अरब यह सब अपने 2030 विजन के तहत कर रहा है, जिसका उद्देश्य राज्य की अर्थव्यवस्था को तेल से दूर करना और लिंग प्रतिबंधों के सख्त नियमों को कम करना है. सऊदी अरब क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पिछले साल से कई प्रतिबंधों को खत्म करने की शुरुआत की, इसमें मुख्य रूप से देश में फैली हुई रूढ़िवादिता को कम करना भी है.

इस महीने की शुरुआत में, रियाद स्थित वाहक फ्लाइनस ने घोषणा की थी कि वह सऊदी महिलाओं को पहली बार सह-पायलट और एयर होस्टेस के रूप में भर्ती करेगी.

राफेल डील: ओलांद के बयान से भारत के साथ संबंधों को नुकसान पहुंच 

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

मालदीव राष्ट्रपति चुनाव: संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार इब्राहीम सोलिह की 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *