तुर्की: 15 साल के प्रेमी ने अपनी 13 साल की प्रेमिका को किया किस, हो गई साढ़े चार साल की जेल

इस्तांबुल: तुर्की में एक अजीबोगरीब मामला देखने में आया है, जहां पर एक 16 साल के लड़के को अपनी 13 साल की प्रेमिका को किस करने के वजह से साढ़े चार साल की सजा सुनाई गई है. इंटरनेट पर लड़के का वीडियो वायरल होने के बाद अदालत ने लड़के को सजा सुनाई है.
5 अन्य को भी किया गया है  गिरफ्तार

तुर्की के दक्षिणी अंतल्या प्रांत में एक अदालत ने लड़के को यौन उत्पीड़न का दोषी पाया है. इस मामले की शुरूआत तब हुई जब स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों ने एक एपिसोड शूट किया था. जिसमें इन दोनो ने एक दूसरे को किस किया. इसके बाद स्कूल के ही एक शिक्षक ने यह वीडियो पुलिस को भेजा. जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए लड़के को गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में लड़के के साथ स्कूल के उन 5 बच्चों को भी गिरफ्तार किया जिन्होंने इस एपिसोड को शूट किया था. तुर्की में 15 साल से कम उम्र के बच्चों को किसी भी प्रकार के सेक्सुअल रिलेशनशिप की मनाही है.

लेस्बियन महिला के परिवार ने जंजीर से बांध कर करवाया बलात्कार

फैसले के खिलाफ अपील करेंगे लड़के के वकील

लड़के के वकील जुहल मेर्वे ओज़फिडन ने कहा कि वह फैसले के खिलाफ अपील करेंगे. उन्होंने मामले के ब्योरे को साझा करने से इनकार कर दिया क्योंकि इसमें नाबालिग शामिल हैं. अदालत को पेश की गई एक रिपोर्ट में सिफारिश की थी कि लड़के की उम्र की वजह से सजा की कोई जरूरत नहीं है.

इसी केस से जुड़े हुए अयदीन ने कहा “मुझे आश्चर्य है कि अदालत ने यह फैसला सुनाया है. अगर इस फैसले को बरकरार रखा जाता है, तो वह साढ़े चार सालों तक के लिए जेल जाएंगे. साढ़े चार साल बाद उनका एक आपराधिक रिकॉर्ड होगा, वो सरकारी अधिकारी, वकील, अभियोजक कुछ भी नहीं बन पाएंगे. इस बिषय पर बहस होनी चाहिए.”

पढ़ें, क्यों अमेरिकी अख़बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने डोनाल्ड ट्रंप को बताया चोर

तुर्की में यौन संबंध बनाने की उम्र 15 साल तय है


तुर्की में सहमति से यौन संबंध बनाने के लिए 15 साल की उम्र तय है. 2016 में, सरकार ने 12 साल से कम उम्र के बच्चों के इस तरह के किसी भी एपिसोड में काम करवाने पर कड़ी सजा का एलान किया और 18 साल से कम उम्र के विवाह पर प्रतिबंध लगा दिया था.

ग्रामीण तुर्की के पारंपरिक समाज में 15 साल से पहले लड़के-लड़की में किसी भी तरह के यौन संबंध पूरी तरह से वर्जित है. परिवारों ने पारंपरिक रूप से 15 या उससे कम उम्र के बच्चों के लिए विवाह की व्यवस्था की है.

एस-400 करार पर भारत-रूस लगाएंगे मुहर, दुश्मन की टूटेगी कमर

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *