death toll reaches 1944, 5000 missing

जकार्ता: इंडोनेशिया के मध्य सुलवेसी प्रांत में आए भूकंप और उसके बाद सुनामी में मृतकों की संख्या रविवार को बढ़कर 1,944 हो गई. वहीं, ताज़ा जानकारी में कहा गया है कि इस प्राकृतिक आपदा के बाद से 5000 लोग लापता हैं. सेना और आपदा एजेंसी के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है.

मध्य सुलवेसी प्रांत के संयुक्त कार्य बल के एक प्रवक्ता ने कहा कि 28 सितंबर को भूकंप आने के बाद 2,549 लोग अभी भी अस्पतालों में भर्ती हैं. उन्होंने कहा कि आपदा के बाद 5000 लोग लापता हैं और मान लिया गया है कि 152 लोगों की मौत इमारतों के मलवे में दब कर हो गई है.

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी ने कहा कि सबसे ज्यादा शव प्रांत की राजधानी पालू से प्राप्त हुए, इसके बाद डोंगला, सिगी, परीगी माउंटोंग और जिलों के अलावा नजदीकी प्रांत पश्चिमी सुलवेसी के पासंग कायु जिले से प्राप्त हुए.

एक अधिकारी ने कहा, “लापता लोगों की तलाश गुरुवार तक पूरी होने की उम्मीद है.” उन्होंने कहा कि भूकंप और सुनामी के कारण 62,359 इंडोनेशियाई लोगों को उनका घर छोड़कर 147 राहत शिविरों के अस्थाई तंबुओं और तिरपालों में रहने पर मजबूर होना पड़ा है.

28 सितंबर को 6.0, 7.4 और 6.1 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप के झटकों के बाद आई सुनामी ने प्रांत को तबाह कर दिया था. सुनामी से सबसे ज्यादा प्रभावित पालू और उससे लगे डोंगाला जिले थे.

मौसम विज्ञान और भूगर्भीय एजेंसी के अनुसार, भूकंप के बाद आई 0.5-3 मीटर ऊंची सुनामी की लहरों ने डोंगाला जिला तथा पालू में तलीसा बीच पर तटीय इलाकों को तबाह कर दिया.

ये भी देखें

#MeToo: बॉलीवुड में मचा है हड़कंप, #YouToo चलाने की भी अपील

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *