India and China will do Joint militry exercise in December

नई दिल्लीः भारत‌ और चीन के बार फिर से‌ साझा‌ युद्धभ्यास करने के लिए तैयार हो गए‌ हैं.‌ दोनों देशों का‌ साझा युद्धभ्यास, हैंड इन हैंड इस‌ साल दिसम्बर‌ के महीने में चीन में होने जा रही है. गौरतलब है कि दोनों‌ देशों के बीच होने वाला‌ सालाना साझा युद्धभ्यास पिछले साल डोकलम विवाद के‌ चलते रद्द कर दिया‌ गया था. जानकारी के मुताबिक, दिसंबर में होने वाली हैंड‌ इन हैंड एक्सरसाइज‌ का ये सातवां संस्करण होगा.‌ ये एक्सरसाइज दिसम्बर के दूसरे हफ्ते में चीन के कुमिंग प्रांत में आयोजित‌ की जायेगी.
भारत‌ और‌ चीन की सेनाओं का साझा युद्धभ्यास, हैंड इन हैंड वर्ष 2007 में शुरू हुआ‌ था. एक‌ साल ये युद्धभ्यास चीन में होता है और एक‌ साल चीन में. आखिरी बार वर्ष 2016 में ये एक्सरसाइज पुणे के करीब औंध मिलिट्री‌ स्टेशन में आयोजित की गई थी. पिछले साल यानि 2017 में चीन में उसका सातवां संस्करण होना था, जिसके लिए चीन की कई पीएलए सेना को भारतीय‌ सेना को आमंत्रित करना था. लेकिन भूटान के विवादित इलाके, डोकलम में भारत और चीन की सेनाओं के बीच 73 दिन तक चले फेसऑफ यानि गतिरोध के चलते ये युद्धभ्यास नहीं हो पाया (चीन ने आमंत्रित नहीं किया). लेकिन अब‌ एक बार फिर दोनों देश एक‌ साथ मिलिट्री‌ एक्सरसाइज करने के लिए‌ तैयार हो गए‌ हैं.

आपको बता दें कि इस‌ साल अप्रैल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच वुहान में हुई मुलाकात के बाद दोनों देशों के संबंधों में काफी सुधार आया है. इस मुलाकात के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी चीन की यात्रा की थी और चीन के रक्षा मंत्री भी भारत के दौरे पर आए‌ थे.

हाल ही में रूस‌ के चेबरकुल में हुई एससीओ एक्सरसाइज में भी भारत‌ और चीन की सेनाओं ने रूस और पाकिस्तान की सेनाओं के साथ हिस्सा लिया था.

प्रधानमंत्री मोदी ने स्वीकार किया एमजे अकबर का इस्तीफा

प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानि मामले पर कल होगी सुनवाई, आज एमजे अकबर ने दिया इस्तीफा

सबरीमाला मंदिर के द्वार खुले, 22 अक्टूबर तक खुले रहेंगे मंदिर के द्वार

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *