2000 years before ayodhya princess married korean prince

नई दिल्ली: दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सूक 4 से 7 नवंबर तक भारत की यात्रा पर आ रही हैं और इस दौरान वह धार्मिक नगरी अयोध्या में विभिन्न त्योहारों में हिस्सा लेंगी. विदेश मंत्रालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, वह छह नवंबर को उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से आयोजित “दीपोत्सव” समारोह में मुख्य अतिथि होंगी.

कोरिया की प्रथम महिला के साथ एक उच्च स्तरीय शिष्टमंडल भी भारत आ रहा है. अपनी यात्रा के दौरान सूक अयोध्या में रानी सूरीरत्न (हिव ह्वांग ओक) स्मारक के भूमि पूजन कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगी.

मंत्रालय के बयान में कहा गया है,”दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला का अयोध्या में त्योहारों में शामिल होना हमारी सभ्यताओं के करीबी संबंधों और दोनों देशों के बीच गहरे संपर्कों को प्रदर्शित करता है.”

उल्लेखनीय है कि करीब 2000 साल पहले राजकुमारी सूरीरत्न अयोध्या से थीं और उन्होंने कोरिया की यात्रा की तथा वहां के नरेश किम सूरो से विवाह किया. उसके बाद उन्हें हिव ह्वांग ओक के नाम से जाना जाता है.

विदेश मंत्रालय के अनुसार,”भारत और दक्षिण कोरिया के बीच विशेष सामरिक गठजोड़ है. वहां के राष्ट्रपति मून जे इन ने जुलाई 2018 में भारत की यात्रा की थी. उनकी यात्रा ने दोनों देशों के संबंधों को नई ताकत प्रदान की.”

राजकुमारी सुरीरत्न स्मारक परियोजना के संबंध में एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) किया गया है. विदेश मंत्रालय की पूर्व सचिव प्रीति सरन ने कहा कि राजकुमारी की याद में एक स्मारक बनाने की योजना है.

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *