Pakistan Pro Khalistani posters demanding Referendum 2020 seen in Nankana Sahib

नई दिल्ली: भारत समेत पूरी दुनिया भर में शुक्रवार को सिख समुदाय के लोगों ने गुरु नानक जयंती का उत्सव मनाया. इस दौरान पाकिस्तान में स्थित गुरु नानक की जन्मस्थली ननकाना साहिब में खालिस्तान समर्थक पोस्टर लग देखे गए. ननकाना साहिब में खालिस्तान समर्थक जो पोस्टर लगे हैं उनपर लिखा है ‘जनमत संग्रह-2020’. बता दें कि यह सिख समुदाय में बेहद पवित्र स्थान माना जाता है. यह गुरुद्वारा पाकिस्तान के पंजाब सूबे के ननकाना साहिब जिले में स्थित है.

बता दें कि भारत ने शुक्रवार को गुरु नानक देव की 549वीं जयंती (गुरु पर्व) के अवसर पर पाकिस्तान के दो गुरुद्वारों में मत्था टेकने गए सिख श्रद्धालुओं से भारतीय उच्चायोग के राजनयिक अधिकारियों को मिलने की इजाजत नहीं देने पर इस्लामाबाद से कड़ा विरोध जताया है.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “भारत ने पाकिस्तान सरकार से कड़ा विरोध जताया है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की ओर से पहले ही यात्रा इजाजत दिए जाने के बावजूद, इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के राजनयिक अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार किया गया और द्विपक्षीय प्रोटोकोल के तहत यहां आए श्रद्धालुओं से मिलने के लिए गुरुवार व शुक्रवार को गुरुद्वारा ननकाना साहिब और गुरुद्वारा सच्चा सौदा में जाने की इजाजत नहीं दी गई.” बयान के अनुसार, “इस तरह के दुर्व्यवहार के बाद, वे भारतीय तीर्थयात्रियों के साथ बिना कूटनीतिक और दूतावास कर्तव्यों को निभाए ही वापस इस्लामाबाद लौट आए.” बता दें कि करतारपुर साहिब वह जगह है, जहां गुरुनानक जी ने 1539 में अपनी अंतिम सांसे ली थी.




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *