Donald Trump Says Tensions Between India Pakistan On Kashmir Is Now Less Heated

वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का दावा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच जम्मू-कश्मीर के मामले पर पिछले दो हफ्तों में तनाव कम हुआ है. इसके साथ ही ट्रंप ने एक बार फिर मध्यस्थता की बात दोहराते हुए कहा कि अगर दोनों दक्षिण एशियाई देश चाहेंगे तो अमेरिका इस मामले में मध्यस्थ की भूमिका निभाने को तैयार है. ट्रंप का यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब उन्होंने दो हफ्ते पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से G-7 सम्मेलन से इतर 26 अगस्त को मुलाकात की थी.

क्या कहा डोनाल्ड ट्रंप ने

ट्रंप ने कहा, ”आप जानते हैं कि कश्मीर को लेकर भारत और पाकिस्तान में टकराव है. मेरा मानना है कि 2 सप्ताह पहले जितना तनाव था उसमें अब कमी आई है.” ट्रंप ने आगे कहा, ”अगर वो चाहें तो मैं उनकी मदद करने को तैयार हूं. दोनों देशों को ये बात पता है. वे जानते हैं कि उनके सामने यह प्रस्ताव है.”

इससे पहले जुलाई में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ मुलाकात के दौरान ट्रंप ने पहली बार कश्मीर के मुद्दे पर मध्यस्थता की बात कही थी. जिसके तुरंत बाद भारत की तरफ से इसे खारिज कर दिया गया. भारत सरकार की तरफ से बयान जारी करते हुए साफ तौर पर कहा गया कि कश्मीर द्विपक्षीय मामला है और इस मसले के हल के लिए किसी तीसरे पक्ष की जरूरत नहीं है.

जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर भारत सरकार के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान

बता दें कि जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को भारत सरकार द्वारा निष्प्रभावी किए जाने के बाद से ही पाकिस्तन बौखलाया हुआ है और कश्मीर में तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहा है. वह हर संभव प्रयास कर रहा है कि वहां के लोगों को भड़काया जाए. इसके साथ ही वह अंतरराष्ट्रीय समुदाय से भी कश्मीर मसले पर हस्तक्षेप करने को कह रहा है लेकिन अभी तक उसे निराशा ही हाथ लगी है. दुनिया के कई देशो ने कश्मीर मामले पर लिए गए भारत सरकार के फैसले को भारत का आंतरिक मामला बताया है.

UNHRC की बैठक: आज आमने-सामने होंगे भारत-पाकिस्तान, कश्मीर मुद्दे पर दिया जाएगा मुंहतोड़ जवाब

SIT ने 1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़े सात मामले फिर खोले, बढ़ सकती हैं कमलनाथ की मुश्किलें

विधानसभा चुनावों से पहले ABP न्यूज़ पर लगेगा नेताओं का मेला, सुबह 11 बजे से देखिए ‘शिखर सम्मेलन झारखंड’

यह भी देखें

Published: 10 Sep 2019 06:53 AM

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *