controversy on deporting faiz daughter to her country became viral on social media – सोशल मीडिया पर वायरल हुआ फैज की बेटी को वापस भेजने का विवाद

मशहूर शायर फैज अहमद फैज की बेटी मोनिजा हाशमी को भारत से वापस लौटाने का विवाद थम नहीं रहा है। मोनिजा भारत में आयोजित अंतरराष्ट्रीय मीडिया कॉन्क्लेव में हिस्सा लेने वाली थीं। इस कार्यक्रम में सूचना और प्रसारण मंत्रालय भी सह आयोजक था। सोशल मीडिया पर भारत सरकार की इस कार्रवाई की खूब आलोचना हो रही है। लेकिन सूत्रों के मुताबिक, मोनिजा हाशमी के पास विजिटर वीजा था, जबकि वह भारत में कॉन्फ्रेंस के​ लिए आईं थीं। बता दें कि मोनिजा हाशमी मशहूर शायर फैज अहमद फैज बेटी हैं और विश्वशांति के लिए काम करने वाले अग्रणी चेहरों में से एक हैं।

शनिवार (12 मई) को पाकिस्तान वापस लौटी मोनिजा ने इस दौरे के कड़वे अनुभवों के बारे में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। लेकिन मोनिजा ने ‘द टेलीग्राफ’ को दिए अपने बयान में कहा,’फैज फाउंडेशन अमन को बढ़ावा देने के लिए काम करता रहेगा और भारत के लोगों को इसके लिए दावत दी जाती रहेगी। हमारे दिल अभी भी खुले हुए हैं। जैसा की फैज ने कहा है, लंबी है गम की शाम मगर शाम ही तो है।’

संबंधित खबरें

मशहूर शायर फैज अहमद फैज की बेटी मोनिजा हाशमी। फोटो- Facebook/Moneeza Hashmi

रिपोर्ट के मुताबिक मोनिजा हाशमी नई दिल्ली में आयोजित 15वें एशियाई मीडिया समिट में भाग लेने के लिए आई थीं। ये समिट 10—12 मई को आयोजित होना था। मोनिजा को इस कार्यक्रम में शामिल होने से रोकने के लिए कोई आधिकारिक सफाई भी नहीं दी गई। इस पूरे वाकये पर अब तीखी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

मोनिजा हाशमी के बेटे अली हाशमी ने इस पूरे मामले पर ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री कार्यालय और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को भी टैग किया है। अली ने लिखा,’क्या यही आपका शाइनिंग इंडिया है? मेरी 72 वर्षीया मां को, जो फैज की बेटी हैं, उन्हें आधिकारिक रूप से न्यौता देने के बाद कॉन्फ्रेंस में शामिल होने की अनुमति देने से इंकार कर दिया गया। ये शर्मनाक है।’

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मोनिजा हाशमी नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उतरने के बाद अपने होटल पहुंच गईं। लेकिन वहां पर उन्हें बताया गया कि उनके नाम से कोई भी बुकिंग नहीं की गई है। बाद में मोनिजा को एशिया पैसिफिक इंस्टीट्यूट फॉर ब्रॉडकास्टिंग डेवलपमेंट के निदेशक ने बताया उन्हें यहां बोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। रिपोर्ट के मुताबिक मोनिजा को इस कॉन्फ्रेंस में,’क्या सभी अच्छी कहानियां कमाऊ भी होती हैं?’ विषय पर तीन अन्य वक्ताओं के साथ अपने विचार रखने थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *