donald trump narendra modi harley davidson import duty – अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप बोले- ‘पीएम मोदी समझते हैं कि वो हम पर एहसान कर रहे हैं’

भारत द्वारा हार्ले डेविडसन मोटरसाइकिल पर लगाए गए भारी आयात शुल्क से अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप खासे नाराज हैं। यही वजह है कि एक महीने में दूसरी बार ट्रंप ने अमेरिकी मोटरसाइकिलों पर लगे भारी आयात शुल्क का मुद्दा उठाया है। एक कार्यक्रम के दौरान ट्रंप ने कहा कि “भारत ने आयात शुल्क में 50 प्रतिशत की कटौती करने की बात कही है, लेकिन इसके बावजूद अमेरिका को ‘कुछ नहीं’ मिल रहा है। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका निष्पक्ष और वाजिब डील चाहता है।” ट्रंप ने कहा कि “भारत को लगता है कि वह आयात शुल्क घटाकर अमेरिका पर एहसान कर रहा है, लेकिन अमेरिका को इससे कुछ भी हासिल नहीं हो रहा है।”

भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से हाल ही में हुई एक बातचीत का जिक्र करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि “प्राइम मिनिस्टर (नरेन्द्र मोदी), जिन्हें मैं बहुत अच्छा इंसान मानता हूं, ने एक दिन मुझे फोन करके कहा कि उन्होंने आयात शुल्क को घटाकर 75 प्रतिशत कर दिया है और अब उसे 50 प्रतिशत करने जा रहे हैं। मैने कहा ‘ठीक है’ और मैं क्या कहता ? क्या मुझे रोमांचित होना चाहिए था ? लेकिन यह ठीक नहीं है। इसी तरह की हमारी कई डील्स हैं।” व्हाइट हाउस में गवर्नरों के साथ हुई एक बैठक के दौरान ट्रंप ने ये बातें कही।

संबंधित खबरें

अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए ट्रंप ने कहा कि “भारतीय कंपनियां अमेरिका के साथ काफी बिजनेस करती हैं। उनकी मोटरसाइकिलें भी हमारे देश में आती हैं, लेकिन हमें उनसे कुछ नहीं मिलता। वहीं हमारी मोटरसाइकिलों पर भारत 100 प्रतिशत, जिसे अब घटाकर 50 प्रतिशत किया जा रहा है, टैक्स लगाता है।”

बता दें कि इससे पहले भी ट्रंप भारत द्वारा अमेरिकी मोटरसाइकिलों पर लगाए गए भारी आयात शुल्क को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं। ट्रंप ने भारत द्वारा लगाए गए इम्पोर्ट टैक्स को ‘पक्षपातपूर्ण’ बताया था और धमकी दी थी कि अब अमेरिका भी भारतीय मोटरसाइकिलों के आयात पर भारी शुल्क वसूलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *