Emirates airlines cabin crew misbehaved with Indian origin siblings during their flight – विदेशी फ्लाइट में केबिन क्रू ने भारतीय पैसेंजर के साथ की बदसलूकी

भारतीय मूल के दो भाई-​बहन, जिन्हें काजू से एलर्जी थी, उन्हें एमिरेट्स एयरलाइंस के केबिन क्रू ने शौचालय में जाकर बैठने की सलाह दी। ये वाकया उस वक्त हुआ जब फ्लाइट में पैसेंजर्स को काजू सर्व किए जा रहे थे। ये बातें उन्होंने मीडिया के सामने बताकर एयरलाइंस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। 24 साल की शानीन सहोता और 33 साल के संदीप सहोता को फ्लाइट में ये असुविधा झेलनी पड़ी। उनका आरोप है कि उन्होंने एलर्जी की अपनी समस्या के बारे में तीन बार फ्लाइट स्टाफ को सूचना दी। लेकिन उन्होंने इसे अनसूना कर दिया और करीब 40 मिनट तक फ्लाइट में काजू सर्व होते रहे।

दरअसल ये वाकया पिछले हफ्ते उस वक्त हुआ, जब शानीन और संदीप इंग्लैंड के बर्मिंघम एयरपोर्ट से दुबई और फिर सिंगापुर जाने वाले थे। वे अपने परिजनों के 60वें जन्मदिन पर वहां जा रहे थे। उनकी इस यात्रा का खर्च 5000 पाउंड था। सहोता भाई-बहन का दावा है कि एमिरेट्स एयरलाइंस का स्टाफ बुकिंग, चेक इन यहां तक कि बर्मिंघम एयरपोर्ट पर यात्रियों के चढ़ने के वक्त भी जल्दबाजी में था। लेकिन जब मेन्यू उनके पास भेजा गया तो वह यह देखकर घबरा गए कि चिकन बिरयानी में तले हुए काजू पड़े हुए थे। ये महसूस करने के बाद कि वह काजू के संपर्क में आने से उन्हें दिक्कत होगी। जब उन्होंने क्रू से इसकी शिकायत की तो उन्होंने सलाह दी कि आप अपने कुशन्स और तकिया लेकर शौचालय में चले जाएं और वहीं पर आराम करें।

संबंधित खबरें

सहोता भाई-बहन ने शौचालय में जाकर बैठने से इंकार कर दिया। इसके बाद एक स्टाफ के सदस्य ने उन्हें सुझाव दिया और वह अगले सात घंटे प्लेन के पिछले हिस्से में कंबल से अपना सिर और नथुने बंद करके बैठे रहे। शानीन ने बताया कि हम बेहद शर्मिंदा और अपमानित महसूस कर रहे थे। ये भयानक था और ये हमारे लिए खुशनुमा सफर था। जिसे सफर की शुरुआत में ही बरबाद कर दिया गया। शानीन लंदन में वोल्वरहैम्पटन में बतौर अनालिस्ट नौकरी करती हैं।

हालांकि एयरलाइन का दावा है कि बुकिंग के वक्त उन्होंने किसी भी एलर्जी का जिक्र नहीं किया था और काजू से कोई भी उड़ान मुक्त होगी, इसकी गारंटी नहीं ली जा सकती है। हमें मिस सहोता की शिकायत के बारे में जानकर अफसोस है। एमिरेट्स एयरलाइंस हर यात्री की खाने की रुचियों के बारे में जानकर उन्हें स्पेशल मील सर्व करता है। इस मांग में खानपान में मेडिकल परहेज और धार्मिक प्राथमिकताओं का ख्याल रखना भी शामिल है। लेकिन एमिरेट्स पूरी तरह से काजू मुक्त फ्लाइट की गारंटी नहीं दे सकती है। हमने मिस सहोता की बुकिंग और अपने रिकॉर्ड पूरी तरह से चेक किए हैं लेकिन उन्होंने कहीं भी काजू से एलर्जी होने की बात नहीं लिखी है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *